LYRIC



ज़िंदगी लेहर थी आप साहिल हुए
ना जाने कैसे हम आपके काबिल हुए
ना भुला पाएंगे हम उस हसीं पल को
जब आप हमारी ज़िंदगी में शामिल हुए ।

Tags:

Classical (62) - Nanhe (1) - Yadav (1)

SHARE

Your email address will not be published. Required fields are marked *

ADVERTISEMENT